Annual Report – वार्षिक रिपोर्ट क्या है

Annual Report – वार्षिक रिपोर्ट के बारे में आपने सुना होगा लेकिन आखिरकार ये वार्षिक रिपोर्ट है क्या? कौन-कौन से मापदंडों को ध्यान में रखकर वार्षिक रिपोर्ट तैयार की जाती है। तो चलिए इसको विस्तार से समझते है।

Annual Report Meaning – वार्षिक रिपोर्ट मतलब कंपनी के पूरे वर्ष के अंत में पूरा लेखा जोखा।

हर कंपनी साल में एक बार वार्षिक रिपोर्ट छापती है और उसे अपने शेयरधारकों (Share Holders)और दूसरे लोगों को भेजती है।

वार्षिक रिपोर्ट एक वित्तीय वर्ष के अंत में छापी जाती है और उसमें दिया गया हर डेटा 31 मार्च के दिन तक का होता है। वार्षिक रिपोर्ट कंपनी की वेबसाइट पर इन्वेस्टर सेक्शन में एक पीडीएफ(PDF) डॉक्यूमेंट के तौर पर मौजूद होती है और उसे डाउनलोड किया जा सकता है।

वार्षिक रिपोर्ट की किताब पाने के लिए आप कंपनी से संपर्क भी कर सकते हैं।वार्षिक रिपोर्ट (Annual Report) में दी गई है जानकारी कंपनी की तरफ से दी गई होती है इसलिए इसे आधिकारिक जानकारी माना जा सकता है।

और इसलिए अगर उसमें कोई गलती पाई जाए तो उसके लिए कंपनी को जिम्मेदार माना जाता है।

आपकी जानकारी के लिए यहाँ बताना जरूरी है कि कंपनी में वार्षिक रिपोर्ट में दिया गया वित्तीय डाटा कंपनी के ऑडिटर द्वारा प्रमाणित किया जाता है।

कंपनी की वार्षिक रिपोर्ट(Annual Report) खासतौर पर नए निवेशकों(Investors) और पुराने शेयरधारकों(shareholder) के लिए छापी जाती है।

इसमें निवेशक के लिए जरूरी जानकारी दी जाती है। साथ ही, इसमें कंपनी की तरफ से एक संदेश भी होता है।

किसी निवेशक के पास एक कंपनी के बारे में जानकारी के लिए सबसे अच्छा स्रोत कंपनी की वार्षिक रिपोर्ट(Annual Report) ही होती है।

Also Read : Fundamental Analysis – फंडामेंटल विश्लेषण क्या है।

Financial Statement Analysis – वार्षिक रिपोर्ट में क्या देखना चाहिए?

वार्षिक रिपोर्ट(Annual Report) के अलग–अलग हिस्सों में ऐसी बहुत सारी जानकारी होती है जिससे कंपनी के बारे में पता चलता है।

इसको बहुत ही ध्यान से पढ़ना चाहिए क्योंकि ” कई बार कंपनी ऐसी जानकारी देती है जो मार्केटिंग के लिए रखी जाती है जबकि आपको तथ्यों पर नजर रखनी चाहिए।”

Efficiently Read Annual Report – कंपनी के ये 9 हिस्सो को ध्यान से पढ़ना चाहिए।

  1. वित्तीय आंकड़ों का सारांश – Summary of Financial Data
  2. मैनेजमेंट का वक्तव्य – Financial Management Statement
  3. मैनेजमेंट की चर्चा और समीक्षा – Management Discussion and Analysis (MD&A)
  4. 10 साल की वित्तीय हाईलाइट – 10 Year Financial Highlights
  5. कंपनी के बारे में जानकारी – Company Information
  6. डायरेक्टर की रिपोर्ट – Director’s Report
  7. कॉर्पोरेट गवर्नेंस पर रिपोर्ट – Report on Corporate Governance
  8. वित्तीय हिस्सा – Financial Part
  9. नोटिस – Notice

Also Read : Sources of Business Finance – व्यापार वित्त के स्रोत।

Financial Statement – वित्तीय विवरण

वार्षिक रिपोर्ट(Annual Report) का अंतिम हिस्सा कंपनी के वित्तीय स्टेटमेंट होता है।

आप शायद समझते ही होंगे कि वित्तीय स्टेटमेंट(Financial Statement) ही वार्षिक रिपोर्ट(Annual Report) का सबसे महत्त्वपूर्ण हिस्सा होता है।

Three Financial Statements – वित्तीय स्टेटमेंट के तीन भाग होते हैं।

प्रॉफिट एंड लॉस स्टेटमेंट (The profit and loss statement)

बैलेंस शीट (The Balance Sheet)

कैश फ्लो स्टेटमेंट (The Cash flow statement)

वार्षिक रिपोर्ट(Annual Report) के बारे मे आपके मन मे कोई सवाल हो तो आप हमे कॉमेंट बॉक्स मे पूछ सकते हो।

Also Read : What is Net Worth – नेटवर्थ क्या है ?

Leave a Comment